The Five Generations of Computers - AaoSikhen.com
Computer Online Courses

कंप्यूटर की पीढ़ी | Generations of Computer | Computer Hindi Notes

May 15, 2019

 

Generation of Computer
(कंप्यूटर की पीढ़ी)

 

कंप्यूटर का शुरुआती दौर (initial period of computer) ऐसा नहीं था कि यह शुरुआत में बहुत बड़ा (Very Large),  भारी (Heavy), और विवादित (Disputed) हुआ करता था।

समय की तकनीक (Technology) में बहुत बदलाव आया, इन बदलावों से कंप्यूटर की नई पीढ़ियों (Generation) का निर्माण शुरू हुआ, हर पीढ़ी के बाद, कंप्यूटर के आकार (Shape), प्रकार (Type) और कामकाज (Function) में सुधार हुआ है, तब जाकर आज के समय का कंम्यूटर (Modern Computer) बन पाया.

कंप्यूटर की पीढ़ियां (Generation of Computer) तब होती हैं जब कंप्यूटर में बड़े तकनीकी परिवर्तन होते हैं, जैसे वैक्यूम ट्यूब (Vacuum Tube), ट्रांजिस्टर (Transistor), आई.सी. (Integrated Circuit) और माइक्रोप्रोसेसर (Microprocessor).

 

First Generation of Computer

(कंप्यूटर की पहली पीढ़ी) - (1945 – 1954)

 

कंप्यूटर की पहली पीढ़ी में वैक्यूम ट्यूबों (Vacuum Tube) का प्रयोग किया जाता था, जिसकी वजह से इसका आकार बहुत बडा (Large Size) होता था और बिजली खपत (Electric Consumption) भी बहुत अधिक होती थी। यह ट्यूब (Tube) बहुत ज्यादा गर्मी (Heat) पैदा करते थे।

इन कंम्यूटरों में ऑपरेंटिग सिस्टम (Operating System) नहीं होता था, इसमें चलाने वाले प्रोग्रामों (Programme) को पंचकार्ड (Panch card) में स्टोर करके रखा जाता था। इसमें डाटा स्टोर करने की क्षमता (Capacity) बहुत सीमित होती थी। इन कंप्यूटरों में मशीनी भाषा (Machine Language) का प्रयोग किया जाता था।Vacuum tube

ENIAC (इलेक्ट्रॉनिक न्यूमेरिकल इंटीग्रेटर एंड कंप्यूटर) पहली पीढ़ी के कंप्यूटर का एक बेहतरीन उदाहरण है। इसमें लगभग 20,000 वैक्यूम ट्यूब (Vacuum Tube) साथ ही 10, 000 कैपेसिटर (Capacitors) और 70, 000 रजिस्टर (Registers) शामिल थे। कंप्यूटर की पहली पीढ़ी के अन्य उदाहरणों में IBM 701, MARK -1, EDSAC शामिल हैं।

 

Second Generation of Computer

(कंप्यूटर की दूसरी पीढ़ी) - (1955 – 1964)

 

कंप्यूटर की दूसरी पीढ़ी (Second Generation of Computer) ने वैक्यूम ट्यूब (Vacuum Tube) की जगह ट्रांजिस्टर (Transistor) ले लिया। वैक्यूम ट्यूब (Vacuum Tube) की तुलना में ट्रांजिस्टर (Transistor) बहुत बेहतर हैं।

ट्रांजिस्टर (Transistor) वैक्यूम ट्यूब (Vacuum Tube) से छोटे थे और कंप्यूटर को आकार में छोटा, गति में तेज और निर्माण करने के लिए सस्ता था। Transistors

कंप्यूटर की दूसरी पीढ़ी (Second Generation of Computer) में मशीनी भाषा (Machine Language) के बजाय असेम्बली भाषा (Assembly Language) का  उपयोग किया जाने लगा

TX-0, IBM 7070 ट्रांजिस्टर इस्तेमाल किया जाने वाला पहला कंप्यूटर था।

 

Third Generation of Computer

(कंप्यूटर की तीसरी पीढ़ी ) - (1965 – 1974)

 

इस पीढ़ी के कंप्यूटर में ट्रांजिस्टर (Transistor) के स्थान पर I.C. (Integrated Circuit) इंटीग्रेटेड सर्किट ने ले लिया.

Computer की दूसरी पीढ़ी की तुलना में Computer का आकार (Size) बहुत छोटा हो गया.Integrated Circuits & Chips

इन कंप्यूटरों की गति (Speed) माइक्रोसेकंड (Microsecond) से नैनोसेकंड (Nanosecond) तक थी, जो इंटीग्रेटेड सर्किट (Integrated Circuit) के द्वारा संभव किया गया था।

ये कंप्यूटर छोटे, सस्ते होने लगे और उपयोग में भी आसान थे। इस पीढ़ी में उच्च स्तरीय भाषा (High Level Language) पास्कल (Pascal) और बेसिक (Basic) का विकास हुआ।

 

Fourth Generation of Computer

(कम्प्यूटर की चौथी पीढ़ी) - (1975 – Till Date)

 

चिप (Chip) और माइक्रोप्रोसेसर (Microprocessor) का उपयोग Fourth Generation के Computer में किया जाने लगा था,  Microprocessor आमतौर पर सीपीयू के रूप में जाना जाता है

इस पीढ़ी में, कंप्यूटर का आकार (Size) कम हो गया और क्षमता (Capacity) बढ़ गई।

What is a Microprocessor? - Definition from #AaoSikhen

माइक्रोप्रोसेसरों ने, Integrated Circuit के साथ, कंप्यूटर को डेस्क (Desk) पर आसानी से फिट करने और लैपटॉप (Laptop) बनाने में मदद की।

कंप्यूटर की इस पीढ़ी में अर्ध-चालक मेमोरी (Semi Conductor Memory), LAN (Local Area Network) और WAN (Wireless Area Network) का उपयोग किया जाता है।

MS DOS (Microsoft Disk Operating System) इस पीढ़ी में पेश किया गया था और यह कंप्यूटर में Windows Operating System का भी उपयोग करता था।

Altair 8800, IBM 5100 Microprocesor के महान उदाहरण हैं।

 

Fifth Generation of Computer

(कंप्यूटर की पांचवीं पीढ़ी) - (Present and Next)

 

Ultra Large-Scale Integration (ULSI), ऑप्टीकल डिस्क (Optical Disk) जैसी चीजों का प्रयोग इस पीढी में किया जाने लगा, कम से कम जगह (Less Space) में अधिक डाटा स्टोर (More Data Store) किया जाने लगा। जिससे Portal PC, Desktop, Tablet etc ने इस क्षेञ में क्रांति ला दी। WWW (World Wide Web), Internet, Email का विकास हुआ। आपका परिचय Windows के नये रूपों से हुआ, जिसमें Windows XP Operating System को भुलाया नहीं जा सकता है।, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) पर जोर दिया जा रहा है।

FIFTH GENERATION COMPUTERS

उदाहरण के लिये – I Phone पर Apple's Siri और Windows 8, और Windows 10 पर Microsoft Cortana A.I. तकनीक के महान उदाहरण हैं। और इसमें Google Search Engine भी उपयोगकर्ता खोजों को संसाधित करने के लिए AI का उपयोग करता है।

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *